न्यूज़फरीदाबादहरियाणा

जीवा के छात्र ने बनाया अनूठा इलैक्ट्रोनिक वोटिंग सिस्टम

हरियाणा प्रभात टाईम्स / सुशील सिंह

फरीदाबाद । जीवा पब्लिक स्कूल में देश की चुनावी प्रक्रिया को छात्रों को समझाने के लिए एक अनूठा प्रयोग किया गया और इसके लिए विद्यालय में डिजीटल चुनाव प्रक्रिया को अपनाया गया। स्कूल के ग्यारहवीं के विज्ञान संकाय के छात्र लक्ष्य कुमार ने एक सॉफ्टवेयर डेवेलप किया जिसमें सभी चुनावी कार्य कम्प्यूटर पर ही किए जा सकें और कागज़ को बचाया जा सके। दोहरी वोटिंग को रोकने के लिए सभी कक्षा छठी से बारहवीं के छात्रों को क्यू0 आर0 कोड दिए गए,जिन्हें स्कैन करके ही छात्रों को वोटिंग करने दी गई। इस डिजीटल वोटिंग का मुख्य उद्ïदेश्य छात्रों कोलोकतांत्रिक व्यवस्था से अवगत कराना साथ ही कागज़ बचाने की प्रेरणा देना है। प्रक्रिया के द्वारा छात्रों को यह समझाया गया कि छात्रों को समाज के प्रति अपने उत्तरदायित्वों के लिए जागरूक होना चाहिए। इसकी सबसे महत्वपूर्णबात है कि छात्र अपने नेचर के अनुसार अपने कार्य चुन सकें।विद्यालय में हर साल चुनाव प्रक्रिया मल्टीपल इंटेलिजेंस/नेचर टीम के आधार पर ही की जाती है।यह चुनावी प्रक्रिया भारतीय लोकतांत्रिक चुनावी प्रक्रिया के आधार पर कई चरणों में बाँटीजाती है। प्रथम चरण में छात्रों के मल्टीपल नेचर के आधार पर नामांकन किया जाता है फिर कक्षा प्रतिनिधियों का चुनाव होता है और अंत में टीम प्रतिनिधि का चुनाव होता है। यही लीडर विद्यालय के विशेष कार्यक्रमों में अपना योगदान भी देंगे।  छात्रों का चुनाव अलग-अलग टीमों के लिए किया गया जैसे प्रोटैक्टिव, ट्रैफिक- एस्कोर्ट, विज़ुअल और इंटरप्रिनोरियल, प्रोवाइडिंग। इन टीमों में टीम लीडरइंडिया इन एक्शन सामाजिक कार्यों के आधार पर  मनोनीत किए गए। छात्रों ने अपने सामाजिक कार्यों को विडियो के माध्यम से छात्रों के सामने प्रस्तुत किए। इस के उपरांत मनोनीत छात्रों नेपूरीतरहसे चुनावी प्रक्रिया के समान ही अपने-अपने प्रचार अभियान आरंभ किए। तय तिथि के दिन डिजिटल प्रक्रिया द्वारा वोट डाले गए एवं अति गोपनियता के साथ चुनावी प्रक्रिया संपन्न हुई।इस पूरी प्रक्रिया में सामाजिक विज्ञान की एच0 ओ0 डी0 श्रीमतीपूनम चौहान का योगदान महत्वपूर्ण रूप से रहा।स्कूल के अध्यक्ष ऋषिपाल चौहान, उपाध्यक्षा चंद्रलता चौहान, प्रशासनिका मुक्ता सचदेव एवं प्रधानाचार्या देविना निगम ने इस चुनाव प्रक्रिया का अवलोकन किया एवं छात्रों की प्रशंसा की। श्री चौहान ने कहा कि आज के बच्चे कल के नागरिक हैं। उन्हें जि़म्मेदार बनाना हमारा ही कर्तव्य है इसलिए देश की तंत्र व्यवस्था की जानकारी होना भी आवश्यक है। इस प्रकार के क्रिया-कलापों द्वाराछात्र अपने कर्तव्यों कोसमझतेहैं। 

Tags
Show More

Related Articles

Close